कानपुर में कांग्रेस का बड़ा यूटर्न- खुशी दुबे की मां के बदले बहन को दिया टिकट !!

हाईलाइट्स –
कांग्रेस ने कल्याणपुर विधानसभा सीट पर लिया यूटर्न !
कांग्रेस ने अब नेहा तिवारी को अपना प्रत्याशी बनाया !
महिलाओं को साधने के लिए हर संभव प्रयास कर रही कांग्रेस !

कानपुर !!
उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने कल्याणपुर विधानसभा सीट पर यूटर्न ले लिया है. यूपी चुनाव के लिए कांग्रेस ने ऐलान किया था कि कानपुर की कल्याणपुर विधानसभा सीट से खुशी दुबे की मां गायत्री तिवारी को उम्मीदवार बनाया जाएगा, मगर अब खुशी दुबे की मां नहीं, बल्कि उनकी बहन नेहा तिवारी कांग्रेस की कल्याणपुर विधानसभा सीट पर उम्मीदवार होंगी. जी हां, कल्याणपुर विधानसभा से कांग्रेस ने अब नेहा तिवारी को अपना प्रत्याशी बनाया है|

नेहा तिवारी खुशी दुबे की ही बहन हैं, जिन्होंने आज कानपुर कलेक्ट्रेट परिसर में पहुंचकर अपना नामांकन कराया. कहा जा रहा है कि बहन को न्याय ना मिलने के चलते नेहा राजनीति में उतरी हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार बनी तो खुशी दुबे के मुकदमे वापस होंगे. इससे पहले खबर थी कि गायत्री तिवारी ने बीते 26 जनवरी को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी से मुलाकात की थी और यह पक्का हो गया था कि गायत्री तिवारी कानपुर में कल्याणपुर सीट से विधानसभा चुनाव लड़ेंगी. उनके नाम पर कांग्रेस आलाकमान ने भी मुहर लगा दी थी|

गौरतलब है कि UP विधानसभा चुनाव में कांग्रेस सूबे की आधी आबादी यानी कि महिलाओं को साधने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है. कांग्रेस ने सबसे पहले यूपी में महिला सुरक्षा और सम्मान के साथ किसान, नौजवान, महंगाई और गांव-गरीब से जुड़े मुद्दे उठाए. अब चुनाव में पार्टी लगातार महिला उम्मीदवारों को उतार रही है. दरअसल, प्रियंका गांधी ने यूपी विधानसभा चुनाव में महिलाओं को 40 फीसदी टिकट देने का भरोसा दिया था, उसे पूरा करने के लिए कांग्रेस ने अपनी 125 उम्मीदवारों की पहली सूची में 50 महिलाओं को टिकट दिया|

इसके बाद 41 कांग्रेस उम्मीदवारों की दूसरी सूची में 16 और 89 उम्‍मीदवारों की तीसरी सूची में सें 37 महिलाओं और फिर 61 प्रत्याशियो की चौथी सूची में 24 महिला उम्मीदवारों के साथ 6 प्रत्याशियों की पांचवीं सूची में कांग्रेस ने 3 महिलाओं को टिकट दिया है. ऐसे में प्रियंका गांधी ने अब तक कांग्रेस ने घोषित कुल 322 उम्मीदवारों में से 130 महिलाओं पर दांव खेला है, जो कि कुल टिकट का 40 फीसदी से भी अधिक है|

Pinterest
LinkedIn
Share
Telegram
WhatsApp