घर में लगी घड़ी की दिशा पलट देगी आपका सोया हुआ वक्त, बरसेगा पैसा !!

नई दिल्ली !!
वास्तु शास्त्र के मुताबिक घर की दिशा और उसके डिजाइन में कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना जरूरी है. वास्तु शास्त्र के जानकार मानते हैं कि घर में चीजों के इस्तेमाल के वक्त वास्तु के नियमों को नजरअंदाज करने से निगेटिव एनर्जी बनी रहती है और भारी धन हानि का सामना करना पड़ जाता है. वहीं, घर में मौजूद एक चीज ऐसी है जिसमें बंधे होने के बाद भी लोग उस पर ध्यान नहीं देते और वो है घड़ी. घर में मौजूद घड़ी सिर्फ टाइम नहीं बताती बल्कि किस्मत पलटने की ताकत भी रखती है. घड़ी अगर वास्तु के मुताबिक सही दिशा में लगी हो तो सोया हुआ भाग्य जाग जाता है और दिन दोगुनी रात चौगुनी तरक्की के साथ भरपूर पैसा आने लगता है|

घड़ी की दिशा –
वास्तु शास्त्र के मुताबिक अगर घर में उचित स्थान पर घड़ी ना लगाई जाए तो जीवन में अनेक आर्थिक परेशानियां आती हैं. वास्तु के मुताबिक घर में कभी भी घड़ी को पश्चिम या दक्षिण दिशा में नहीं लगाना चाहिए. वहीं, घड़ी को पूरब या उत्तर दिशा में लगा सकते हैं. सिर्फ घड़ी ही नहीं घर में लगा तुलसी का पौधा और पूजा मंदिर भी वास्तु के नियमों के मुताबिक दिशा में हों तो किस्मत चमका सकते हैं|

घर का पूजा मंदिर –
वास्तु शास्त्र के मुताबिक घर के पूजा मंदिर के लिए सबसे उपयुक्त दिशा ईशान कोण (पूरब-उत्तर का कोना) है. ऐसे में घर का मंदिर हमेशा पूरब, उत्तर या पूर्व-उत्तर के कोण में होना चाहिए. साथ ही मंदिर थोड़ी उंचाई पर भी होनी चाहिए|

तुलसी –
हिंदू धर्म में तुलसी का विशेष महत्व है. वास्तु शास्त्र में कहा गया है कि तुलसी का पौधा घर के आंगन में लगा होना चाहिए. इसके अलावा तुलसी के पौधे को घर के पूरब या पूर्व-उत्तर दिशा में लगना शुभ माना गया है. इस तरह से तुलसी का पौधा लगाने से आर्थिक संकट दूर होते हैं. साथ ही घर में खुशहाली बरकरार रहती है|

Pinterest
LinkedIn
Share
Telegram
WhatsApp