हार्दिक पटेल का फिलहाल भाजपा में जाने से इंकार !!

हाइलाइट्स –
कांग्रेस लोगों का इस्तेमाल करती और फिर बाहर निकलती है !
पार्टी की तरफ से कोई जिम्मेदारी नहीं दी गई : हार्दिक पटेल !
मैं अपना हर फैसला ईमानदारी से करूंगा : हार्दिक पटेल !

अहमदाबाद !!
गुजरात के युवा नेता हार्दिक पटेल ने कहा है कि उन्होंने अभी तक भाजपा में शामिल होने का फैसला नहीं किया है. पटेल ने बुधवार को गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद से उनके भाजपा में जाने की अटकलें लगाई जा रही हैं. उन्होंने कांग्रेस पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि ये पार्टी गुजरात में सिर्फ जातिवाद की राजनीति करती है. साथ ही उन्होंने कहा कि उन्हें पार्टी की तरफ से कोई जिम्मेदारी नहीं दी गई|

यह भी पढ़ें :- ‘चिंतन शिविर’ के बीच पंजाब में कांग्रेस को झटका- सुनील जाखड़ ने पार्टी को कहा ‘अलविदा’ !!

इस्तीफा देने के बाद हार्दिक पटेल पहली बार मीडिया के सामने आए. उन्होंने कहा, ‘मैंने अपने जीवन के 3 साल कांग्रेस में बर्बाद किए हैं. फिलहाल भाजपा या आप में शामिल होने का फैसला नहीं किया है. मैं अपना हर फैसला ईमानदारी से करूंगा’|

हाईकमान पर सवाल !
हार्दिक पटेल ने कांग्रेस हाईकमान पर सवाल खड़े किए. उन्होंने कहा वो कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष जरूर बने लेकिन उन्हें कोई जिम्मेदारी नहीं दी गई. पटेल ने आरोप लगाया कि कांग्रेस के नेता उन्हें लगातार किनारे लगाने में जुटे हैं. उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस केवल लोगों का इस्तेमाल करती है बाद में उन्हें बाहर निकालने की नीति अपनाती है. नरहरि अमीन, चिमनभाई पटेल को कांग्रेस से हटा दिया गया है. कांग्रेस में सच बोलने पर बदनाम किया जाता है’|

राहुल गांधी पर निशाना !
प्रेस कॉन्फ्रेस के दौरान हार्दिक पटेल ने राहुल गांधी पर भी निशाना साथा. कहा जा रहा है कि वो राहुल गांधी से नाराज चल रहे थे. पार्टी में उनकी बात नहीं सुनी जा रही थी. उन्होंने कहा, ‘जब वे गुजरात आए तो उन्होंने गुजरात की समस्या पर बात नहीं की. राहुल गांधी के लिए पार्टी के नेता चिकन सैंडविच और डाइट कोक का इंतजाम करते हैं’|

यह भी पढ़ें :- कांग्रेस नव संकल्प शिविर का दूसरा दिन- अभी कुछ तय नहीं !!

3 साल पहले हुए थे शामिल !
पाटीदार आरक्षण आंदोलन से उभरे नेता तीन साल पहले कांग्रेस में शामिल हुए थे. हार्दिक पटेल ने बुधवार को पार्टी से इस्तीफा देते हुए दावा किया था कि कांग्रेस के शीर्ष नेता अपने मोबाइल फोन की स्क्रीन पर कहीं अधिक ध्यान देते हैं और गुजरात कांग्रेस के नेता उन लोगों के लिए ‘चिकन सैंडविच’ की व्यवस्था करने में अधिक रुचि लेते हैं|

Pinterest
LinkedIn
Share
Telegram
WhatsApp