केंद्र का नोटिस- पंजाब के मुख्यमंत्री को खाली करना होगा सरकारी बंगला !!

हाइलाइट्स –
भगवंत मान ने मार्च में दिया था सांसद पद से इस्तीफा !
दिल्ली में नॉर्थ एवेन्यू में अलॉट किया गया था बंगला !

नई दिल्ली !!
लोकसभा सचिवालय ने पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के खिलाफ सरकारी बंगले पर ‘अनधिकृत’ कब्जे को लेकर बेदखली की कार्यवाही शुरू करने के लिए कहा है. आपको बता दें कि, भगवंत मान को दिल्ली में सरकारी आवास आवंटित किया गया था. लेकिन सांसद पद से इस्तीफे के बाद अब बंगले को वापस लिया जाएगा|

एजेंसी के मुताबिक, भगवंत मान ने मार्च में ही संगरूर के सांसद पद से इस्तीफा दे दिया था. लोकसभा सचिवालय ने 17वीं लोकसभा के सदस्य के तौर पर सचिवालय ने कहा कि मान को केंद्र सरकार ने डुप्लेक्स नंबर 33, नॉर्थ एवेन्यू अलॉट किया गया था. साथ ही कहा कि ये आवंटन 14 अप्रैल से रद्द कर दिया गया है. लेकिन मान ने अभी तक बंगला खाली नहीं किया है. लोकसभा सचिवालय ने सम्पदा अधिकारी से कहा कि भगवंत मान को बेदखल करने की कार्यवाही शुरू की जाए. साथ ही इस संबंध में आदेश पारित किए जाएं. पंजाब के मुख्यमंत्री ऑफिस से इस बारे में कोई भी प्रतिक्रिया नहीं आई है. वहीं भगवंत मान के अलावा RLP अध्यक्ष और सांसद हनुमान बेनीवाल को भी इस संबंध में जानकारी दी गई है|

यह भी पढ़ें :- राजद्रोह कानून पर सुप्रीम कोर्ट की रोक, पुनर्विचार तक दर्ज नहीं होगा नया मुकदमा !!

आपको बता दें कि, दिल्ली में तैनाती के दौरान केंद्र सरकार के कर्मचारियों, सांसदों, न्यायाधीशों और गणमान्य व्यक्तियों को दिल्ली में आवास आवंटित किया जाता है. इस दौरान उनकी सर्विस अवधि खत्म हो जाती है या फिर समय से पहले ही उनका कार्यकाल खत्म हो जाता है तो उन्हें आवास खाली करना होता है. इसके लिए केंद्र सरकार के संपत्ति अधिकारी की ओर से संबंधित व्यक्ति को एक नोटिस जारी किया जाता है. तीन दिन के अंदर इसका जवाब देना होता है|

Pinterest
LinkedIn
Share
Telegram
WhatsApp